Saturday, 04 April 2020, 10:46 PM

Exclusive News

फेसबुक पर अपनी पहचान बनाएं.... कैसे ?.... हरीश मिश्र

Updated on 4 April, 2020, 20:02
1- सोशल मीडिया पर लेखनी से अपनी पहचान बनाएं ।  2- सोशल मीडिया पर अपने विचार ना लिखना मृत्युवत है । पर क्या लिखना है,चिंतन  कर लिखें।  3-  सबसे पहले तथ्यात्मक जानकारी, विचार पोस्ट करें।  4- देश हित में सदैव लेखन करें और देश का विरोध करने वालों का जरुर विरोध करें। 5-आर्थिक साहित्यिक... आगे पढ़े

मुनव्वर राणा , साहित्यकारों का काम आग लगाना नहीं, बल्की आग से बाग बचाने का है।

Updated on 4 April, 2020, 19:49
उनके सवाल का बस यही है जवाब : राजेश सत्यम मशहूर शायर जनाब मुनव्वर राणा साहब  की शायरी आप ही की तरह मुझे भी बहुत पसंद है। विशेषकर माँ पर कहे उनके शेर काबिले तारीफ है। आजकल कोरोना के चलते देशभर के मन्दिरों में ताले लगे हुए हैं, मस्जिदों में भी... आगे पढ़े

जो स्वयं दीप सा जल रहे हैं उनको सहयोग का विश्वास दिलाने दीप जलाएं : सुमित ओरछा

Updated on 4 April, 2020, 12:15
"दीप विश्वास और एकता, विजय एवं सकारात्मकता का प्रतीक है 5 अप्रैल को पूरा देश जलाएगा" कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई संपूर्ण दुनिया के लिए पथ प्रदर्शक बन रही है पूरी दुनिया भारत का अनुकरण भी कर रहा है और प्रशंसा भी ! माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के... आगे पढ़े

महामारी पर विजय पाने हम भी दीप जलाएं : राजेश सत्यम

Updated on 3 April, 2020, 21:43
वैश्विक महामारी कोरोना के संदर्भ में भारत की जागरुकता और इसकी विभीषिका से बचने के उसके प्रयासों को दुनियाभर से सराहना मिल रही है। पुलिसकर्मियों से लेकर प्रधानमंत्री तक इस विषय को लेकर कितने गम्भीर हैं, यह साफ समझ आ रहा है। स्वास्थ्य विभाग, अन्य आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों... आगे पढ़े

मानव सभ्यता के दुश्मनों से शिवराज सरकार को आर पार की लड़ाई लड़नी होगी...

Updated on 3 April, 2020, 15:10
और कितने बेकसूर लोगों की जाने जाएंगी,, हरीश मिश्र  हर संवेदनशील भारतीय की एक आंख में आंसू दूसरी में खून उतरा हुआ है। आंसू डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए जो आकरण ही पीटे जा रहे हैं और खून उनके लिए जो मानवता सभ्यता को समाप्त कर रहे हैं । डॉक्टर एवं स्वास्थ्य... आगे पढ़े

"पिता-पुत्री का "परमार्थ__ हरीश मिश्र

Updated on 2 April, 2020, 20:45
 परहित अर्थात समाज की पीड़ा मिटाने के लिए, परमार्थ करना ही धर्म है। परहित अर्थात परमार्थ से सुख, शांति एवं संतोष की अनुभूति होती है। जब जीवन है, तो संकट होगा ही।  ऐसा संकट में कष्ट जो किसी और के लिए सहा जाता है, तब स्वयं के सभी संसाधनों  का... आगे पढ़े

"थूकने वालों का " मजहब नहीं होता...वह 'निरक्षेप भाव से' थूकते हैं...हरीश मिश्र

Updated on 1 April, 2020, 21:20
मानव जन्म से ही, कर्म की अपेक्षा धर्ममजहब से अधिक जुड़ा होता है धर्म ही उसकी आस्था और विश्वास  है। __ मनुष्य भटके नहीं इसीलिए उसे बचपन से ही धर्म, मजहब  की प्रथाओं, परंपराओं, पूजा, पाठ, पद्धति, इबादत के माध्यम  से संस्कार दिए जाते हैं।        समय तो दर्पण... आगे पढ़े

भूख से मरेंगे या कोरोना से ? चिंता में राष्ट्र निर्माता

Updated on 29 March, 2020, 20:21
कोरोना महामारी के चलते एक ओर जहाँ सरकर विदेशों में फसे प्रवासी भारतीयों को किसी तरह सरकारी अथवा निजी  विमानों की सहयता से भारत लानें में लगी है, तो वहीं देश में फसे विदेशी सैलानियों की सहयता में भी सरकारी अमला लगा हुआ है। यह हमारी जिम्मेदारी और हमारी सभ्यता... आगे पढ़े

कोरोना वायरस के भय से हमें भय मुक्त होना होगा...हरीश मिश्र

Updated on 28 March, 2020, 20:23
 भय से मनुष्य का मन इतना आतंकित हो जाता है कि भय की कल्पना मात्र से भयभीत हो जाता है । भय वर्तमान में जीने नहीं देता और भविष्य की कल्पना से भयभीत करता है । इस भय के कारण व्यक्ति खुलकर जी नही पाता । इसलिए भय से भयभीत... आगे पढ़े

" जीवन में बगावत करो गद्दारी नहीं ": जब डॉ प्रभुराम चौधरी ने गद्दारो को दिखाया आईना

Updated on 27 March, 2020, 19:52
( इस पोस्ट से सहमति असहमति आपका अधिकार है__कमेट मर्यादित भाषा में करें ) 'सांची विधानसभा चुनाव 2018 ' भाजपा में रहकर कांग्रेस के लिए काम किया उनको आईना दिखाया डॉ चौधरीने.... हरीश मिश्र आज पूर्व मंत्री, विधायक डॉ प्रभुराम चौधरी ने एक पोस्ट फेसबुक पर शेयर की है की गद्दार वह है... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन : "लाशों के " प्रश्न...वाजिब है और ..."सिसकियों के "सवाल भी ...

Updated on 24 March, 2020, 21:16
   'चीन ने 'मानवता से 'खिलवाड़ किया है_                        ....हरीश मिश्र       दुनिया "मौत के आतंक से सन्न है । कोरोना वायरस ने "लाशें बिछा दी हैं । जो समर्थ हैं, सक्षम हैं,असमर्थ हैं, साधनहीन हैं सभी अपनी जान... आगे पढ़े

मैं समाज का दुश्मन हूं, घर पर नहीं रहूँगा : राजेश सत्यम

Updated on 24 March, 2020, 21:05
 देश में कोरोना के मरीज बढ़ते ही जा रहे हैं। हर कहीं लॉकडाउन है, पर लोग अब भी मान नही रहे। सरकार और पुलिस घर में रहने को कह रही है, पर हम इसलिए सड़क पर हैं कि एक तो घर पर टाईम पास नहीं होता, दूसरा घर वालों से... आगे पढ़े

पुरानी भूलों का परित्याग कर, आदर्श समाज की स्थापना के लिए कार्य करना होगा..

Updated on 23 March, 2020, 21:09
                                                                                                   ... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन :" कांग्रेस" का पिंडदान कर भाजपा में आए ' प्रभुराम '

Updated on 22 March, 2020, 11:21
 भाजपा, संघ के राष्ट्रवाद की भट्टी में तपे कार्यकर्ता आपको और आपके समर्थको को स्वीकार करेंगे ब्रह्मपुराण के अनुसार देवताओं को प्रसन्न करने से पहले  पितरों को प्रसन्न किया जाता है।  पितृ ऋण को पिंडदान कर उतारा जाता है । वैसे एक ऋण और है नेता का ऋण, इसके लिए राजनीति... आगे पढ़े

राजा की सनक और विपक्ष की भनक ही नई सरकार की जनक है..

Updated on 21 March, 2020, 12:10
साहित्य की तरह ही फिल्में भी हमारे समाज का आईना हैं। फिल्म ‘नायक’ तो आपने देखी ही होगी, जिसमें सामान्य परिवेश सेे निकले एक युवक को एक दिन के लिए राज्य का मुख्यमंत्री बना दिया जाता है। क्या-क्या नहीं करता वह उस एक दिन में? और कुछ ऐसे भी मुख्यमंत्री... आगे पढ़े

पीएम मोदी ने नवरात्रि पर देशवासियों से किए 9 आग्रह

Updated on 19 March, 2020, 21:34
नई दिल्लीI प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी   ने अपने संबोधन में कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना से निश्चिंत हो जाने की ये सोच सही नहीं हैI इसलिए, प्रत्येक भारतवासी का सजग रहना, सतर्क रहना बहुत आवश्यक हैI  पीएम मोदी ने कहा कि कुछ दिन में नवरात्रि का पर्व आ रहा है, ये शक्ति उपासना का... आगे पढ़े

खरी खरी : एक बयान ने बदल दी मध्यप्रदेश की राजनीति

Updated on 19 March, 2020, 21:20
‘मान ना मान मैं तेरा मेहमान’ का गाना आजकल एमपी के सीएम हाउस से लेकर कर्नाटक में बैंगलुरू और इधर भोपाली राजभवन के राजपथ और गांव-कस्बों में खुदे पड़े फुटपाथों के जनपथ तक हर कहीं सुनाई दे रहा है। कोरोना का बहाना लेने के लिए मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री, मंत्री विधायक,... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन : बिके तो सभी हैं...सच स्वीकार नहीं कर पा रहे...

Updated on 18 March, 2020, 23:04
                                                                                                   ... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन : बिके तो सभी हैं...सच स्वीकार नहीं कर पा रहे....

Updated on 18 March, 2020, 22:49
                                                                                                   ... आगे पढ़े

संविधान की रोचक जानकारी.... राज्यपाल की स्वविवेक शक्ति....अचूक ब्रह्मास्त्र

Updated on 17 March, 2020, 12:52
                                                                                                   ... आगे पढ़े

ICJ में अपील : निर्भया के हत्यारे, चारों बलात्कारियों के संरक्षक कौन लोग हैं उनका एजेंडा क्या है...?

Updated on 17 March, 2020, 12:52
 निर्भयाकेहत्यारेचारोंबलात्कारियोंकेबचावकेलिए आज उठाए गए कदम ने चौंकाया है और गम्भीर सवाल को जन्म दिया है. अतः सरकार इस तथ्य की जांच CBI, IB या NIA से करवाए कि निर्भया के हत्यारे चारों बलात्कारियों के संरक्षक कौन लोग हैं, उनका एजेंडा क्या है...?  ज्ञात रहे कि पूरा देश इस तथ्य से भलीभांति... आगे पढ़े

कमलनाथ सरकार बहुमत साबित कर पायेगी ? बीजेपी के पक्ष में जादुई आंकड़ा , निगाहें विधानसभा अध्यक्ष के

Updated on 13 March, 2020, 11:02
भोपाल / मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार 16 मार्च को क्या अपना बहुमत सिद्ध कर पायेगी ? इसे लेकर माथापच्ची का दौर शुरू हो गया है | दरअसल 16 मार्च को राज्य की विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत होनी है | माना जा रहा है कि इसी दिन मुख्यमंत्री कमलनाथ... आगे पढ़े

कमलनाथ सरकार बहुमत साबित कर पायेगी ? निगाहें विधानसभा अध्यक्ष के फैसले पर ..

Updated on 13 March, 2020, 10:59
भोपाल / मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार 16 मार्च को क्या अपना बहुमत सिद्ध कर पायेगी ? इसे लेकर माथापच्ची का दौर शुरू हो गया है | दरअसल 16 मार्च को राज्य की विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत होनी है | माना जा रहा है कि इसी दिन मुख्यमंत्री कमलनाथ... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन : जो खरीद सकने में चतुर और मूर्ख बनाने में माहिर होते हैं,वही नेता होते हैं- हरीश मिश्र

Updated on 24 November, 2019, 18:43
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना, विचारधारा में समानता के आधार पर चुनाव में उतरे। जनता ने संयुक्त रूप से सरकार बनाने का अभय दान दिया_किंतु लोभ, लालच, पुत्र मोह और सत्ता मोह  में उद्धव ने बहुत पुराने भाजपा शिवसेना के रिश्तों को तार-तार कर दिया।         निश्चित... आगे पढ़े

कमलनाथ ने प्रदेश और कांतिलाल ने झाबुआ को तबाह कर दिया

Updated on 20 October, 2019, 14:34
भोपाल। भाजपा की सरकार ने गरीबों और आदिवासियों को 1 रूपए किलो गेहूं, चावल और नमक दिया। आदिवासियों की बच्चियों को साइकिलें दी। गरीब एवं आदिवासी बच्चों को सही शिक्षा मिले, इसलिए हमने छात्रावास खोले, स्कॉलरशिप दी, किताबें दी, स्मार्टफोन, लेपटॉप दिए। लेकिन कांग्रेस हमेशा यही चाहती रही है कि... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन : अज्ञानता में या जानबूझकर की गई टिप्पणी का प्रतिउत्तर इतना घृणा से, क्यों ? हरीश मिश्

Updated on 20 October, 2019, 14:29
रद ऋतु का आगमन हो चुका है_राम मंदिर पर आने वाले फैसले से पहले राजनैतिक, सामाजिक वातावरण में तपन महसूस हो रही है। उत्तर भारत से गर्म हवा प्रभावित होने लगी। लखनऊ में हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की गला रेत कर तालिबानी फितरत  से हत्या कर देश में क्लेश फैलाने... आगे पढ़े

दिव्य चिंतन : #बबूल #के #पेड़ #पर #लटकी #आत्माएं_ हरीश मिश्र

Updated on 20 October, 2019, 14:23
  वक्त बदला_मुख्यमंत्री निवास में चेहरा बदला_मंत्री बदले_पर व्यवस्था नहीं बदली । मध्य प्रदेश की जनता ने शिवराज की विदाई इसलिए की थी कि_वक्त बदलेगा_कमलनाथ का राजतिलक हुआ । कमलनाथ सरकार में आते ही सक्रिय दिखे। हर निर्णय आनन-फानन में जनहित में लिए जाने लगे। पर अब 10 महिने में कमलनाथ... आगे पढ़े

नगर पालिका चुनाव में चवन्नी का महत्व बहुत होगा ..हरीश मिश्र

Updated on 22 September, 2019, 11:53
इस बार नगर पालिका चुनाव में चवन्नी का महत्व बहुत होगा । कांग्रेस-भाजपा नगर पालिका चुनाव  जीतकर परिषद में बैठना चाहेगी। इस बार पार्षद अध्यक्ष चुनेंगे। इसलिए उस पार्षद का महत्व अधिक होगा जो बागी होकर चुनाव लड़ेगा और चुनाव जीतेगा।     कांग्रेस-भाजपा की मजबूरी होगी, ऐसे पार्षद को गोद... आगे पढ़े

बरबादियों का जश्न मनाती काँग्रेस... गोविन्द मालू

Updated on 22 September, 2019, 11:49
काँग्रेस अपने आमोद प्रमोद और स्वार्थ के लिए बेहद असंवेदनशील है ,यह आरोप नहींब  वास्तविकता है इसके लिए प्रमाण आपके सामने रख रहें हैं। जावद से 50 किलोमीटर दूर रामपुरा में दशक की सबसे बड़ी बाढ़ आई किसानों ,गरीबों, मजदूरों को तबाह कर दिया ! लेकिन काँग्रेस को इससे कोई सरोकार... आगे पढ़े

बरबादियों का जश्न मनाती काँग्रेस... गोविन्द मालू

Updated on 22 September, 2019, 11:47
काँग्रेस अपने आमोद प्रमोद और स्वार्थ के लिए बेहद असंवेदनशील है ,यह आरोप नहींब  वास्तविकता है इसके लिए प्रमाण आपके सामने रख रहें हैं। जावद से 50 किलोमीटर दूर रामपुरा में दशक की सबसे बड़ी बाढ़ आई किसानों ,गरीबों, मजदूरों को तबाह कर दिया ! लेकिन काँग्रेस को इससे कोई सरोकार... आगे पढ़े